Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem Summary in English and Hindi by Robert Frost

Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem Summary in English and Hindi Pdf. Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem is written by Robert Frost. Learncram.com has provided Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem Objective Questions and Answers Pdf, Poem Ka Meaning in Hindi, Poem Analysis, Line by Line Explanation, Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem Literary Analysis Stanza By Stanza, Summary With Quotations, Theme, Figures of Speech, Critical Appreciation, Central Idea, Poetic Devices.

Students can also check English Summary to revise with them during exam preparation.

Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem Summary in English and Hindi by Robert Frost

Stopping By Woods On A Snowy Evening by Robert Frost About the Poet

Robert Frost (1874-1963), often called the ‘New England poet’ was born in San Francisco but moved at an early age to New England on the East Coast. Returning to the states he devoted himself to poetry and teaching. He also worked as a newspaper editor, cobbler and farmer. His works include A Boy’s will (1913), North of Boston (1914), Mountain Interval (1916), New Hampshire (1923), West-Running Brook (1928), Frost won numerous awards, including two Pulitzer Prizes, and by the time he delivered his poem. “The Gift Outright at the inauguration of President Johan F. Kennedy in (1961) he had achieved the status of unofficial poet laureate of America.

Stopping By Woods On A Snowy Evening Summary in English

One snowy evening of the winter a rider (the poet) is riding home. He passes by a very beautiful wood. Being bewitched at the sight of the snow falling of the beautiful wood he stops there and starts enjoying the scene. At this the horse, he is riding becomes inpatient. I think that its master has perhaps, stopped there by mistake for there is no farmhouse nearby and is getting dark appearing that it is the darkest evening of the year. It shakes its harness bells to ask its master whether it is proper to step between the wood covered with snow and frozen lake. Besides the sound of the harness bells that are heard there, is the sound of the swift movement of the wind and the sound of the snow flakes falling on the ground.

A conflict starts in the mind of the rider whether to stop there to enjoy natural beauty or to reach home in time. Ultimately rejecting the temptation of stopping there he decided to return home reminding himself of the promise that he has to travel long before he may take rest. So he resumes his journey to reach his destination before he can take rest. He has not to take rest before reaching his final destination.

Stopping By Woods On A Snowy Evening Summary in Hindi

एक बर्फीली शाम को एक यात्री घोड़े पर बैठकर कहीं जा रहा था। रास्ते में एक वन को देखकर वह रुक गया । उस सुन्दर वन को देखकर वह मंत्रमुग्ध हो गया। वह अपनी यात्रा रोकने. के लिए सोचने लगा। उसने उस वन के स्वामी के बारे में पता लगाया । उसका स्वामी नजदीक के गाँव में रहता था। जब वह उन दृश्यों का अवलोकन कर रहा था, वह जानता था कि वन का स्वामी उसे उन क्षणों का आनन्द लेते हुए नहीं देख पाएगा, जब मैदान बर्फ से ढंकता जा रहा था। संभवत: यार अपने सामान्य मार्ग पर था। उसका घोड़ा भी उस पथ से होते हुए घर पहुँचने का अभ्यस्त था। लेकिन, वह भी आश्चर्यचकित था कि उसका सवार एक ऐसी जगह पर रुका हुआ था जो उसका गतव्य स्थान नहीं था । नजदीक में कहीं भी कोई घर नहीं था, जहाँ वह शरण लेता । खराब मौसम से बचने के लिए भी कोई शरणस्थली नहीं थी। सड़क के किनारे एक वन था और दूसरी तरफ बर्फ से आच्छादित झील । शायद यह वर्ष की सबसे अन्धकारपूर्ण शाम थी, जहाँ चन्द्रमा की रोशनी भी नहीं थी।

अपने मालिक के इस असामान्य व्यवहार पर उसे सावधान करने के लिए घोड़े ने अपना सिर हिलाया और घंटियाँ बजाईं। मानो, वह कहना चाहता हो कि घुड़सवार ने उस जगह रुक कर गलती की है। चारों ओर एक अजीब आवाज थी। केवल बर्फ के टुकड़ों की जमीन पर गिरने और मंद-मंद शीतल वायु के बहने की लुभावनी आवाज आ रही थी। घुड़सवार के मस्तिष्क में एक संघर्ष होने लगा। उसका मस्तिष्क वहाँ रुककर वन की सुन्दरता को निहारने और कर्त्तव्य की पुकार पर समय से घर पहुँचने के बीच में द्वन्द्व करने लगा। वह उस गहन घने वन का नजरअंदाज नहीं कर सकता था। लेकिन, दूसरी तरफ वह अपने परिजनों, देशवासियों और अपने बंधु-बांधवों की कृतज्ञता को भी भूल नहीं सकता था। अन्त में, कर्तव्य बोध ही प्रबल साबित हुआ और उसने वहाँ पर रुकने का निश्चय का त्याग किया। उसे याद आयी कि आराम करने के पहले उसे एक लम्बी दूरी तय करनी है। अतः उसने अपनी यात्री प्रारम्भ की। उसने सोचा कि उसे अपना वादा निभाना है। इस प्रकार, आराम करने के पहले उसे मीलों की दूरी तय करनी थी। निद्रामग्न होने के पहले उसे लम्बी दूरी तय करनी थी।

Stopping By Woods On A Snowy Evening Poem Hindi Translation

First Stanza:
Whose wood are I think I know
His house is in the village though;
He will not see me stopping here.
To watch his wood fill up with snow.

Substance-The traveller says, “I believe I know the owner of these woods, though he resides in the village nearby (Since he is not living in the midst of his woods), he will not notice me while I stop to watch his woods being filled up with snow”

भावार्थ-यानी कहता है-मुझे विश्वास है, मैं इस वन के स्वामी को जानता हूँ। उसका घर विचार से बगल के गाँव में ही है। उस ठहराव काल में में जब बर्फ से आच्छादित वन की न्यतापूर्ण मुग्ध कर देनेवाली शोभा को वह देख रहा था, उसको उसका (वन का) स्वामी नहीं – पायेगा-कारण वह जंगल में नहीं था।

Second Stanza:
My little horse must think it queer
To stop without a farmhouse near.
Between the woods and forzen lake
The darkest evening of the year.

Substance-My little horse must think it strange to see me stop near the woods, where there is no farm house (to provide shelter in the rough weather), From the woods to the lake, the water is forzen and it is the darkest evening of the year.

भावार्थ-मेरा छोटा घोड़ा मुझे यहाँ रूका हुआ देखकर अचभित था। मैं जंगल के पास रूका हुआ था। पास में कोई मकान नहीं था। उस खराब मौसम में सिर छिपाने का स्थान वह नहीं था। जंगल से झील तक पानी इकट्ठा हो चुका था। वह साल की सबसे अंधेरी शाम थी।

Third Stanza:
He gives his harness bells a shake
To ask if there is some mistake;
The only other sounds the sweep
Of easy wind and downy flake.

Substance-He (my horse) shakes the harness bells to ask me if there is any mistake (in my stopping in this manner at this place), There is no other sound to be heard here except the sound of the gentle wind and the soft snow flakes.

भावार्थ-उस जंगल में घुड़सवार के रूकने से चलित घोड़ा गले की घटी यह समझकर बजाता है कि कहीं सवार से गलती तो नहीं हो गई कि इस असामान्य संध्या में यहाँ ठहर गया। वहाँ पर केवल ठंढ़ी हवा की ध्वनि एवं हल्के हिमपात के अतिरिक्त कुछ सुनाई नहीं देता था। हवा बर्फ के गोलों से टकराकर सनसनाहट की ध्वनि उत्पन्न कर रही थी।

Fourth Stanza:
The woods are lovely, dark and deep.
But I have promises to keep.
And miles to go before I sleep,
And miles to go before I sleep.

Substance-No doubt the woods are very dark and thick. They are charming and tempting to explore. But I have to keep my promises and fulfill my obligations at home. (which I must reach without delay). I have yet to ride many miles before I can hope to take rest. I have yet to cover a long distance before I can sleep.

भावार्थ-बेशक वह गहन अंधकारमय जंगल बड़ा ही मनमोहक और सुन्दर था। परंतु, वह अपने परिजनों और बन्धुओं के प्रति कृतज्ञतापूर्ण किये गये वादों को भी भुला नहीं सकता था। उसे याद आया कि आराम करने से पहले उसको लम्बी दूरी तय करनी है। अतः उसने अपनी यात्र प्रारंभ की। यों उपरोक्त अनुच्छेद (स्टेन्जा) का सही भावानुवाद अभिप्रेत अर्थ को सुन्दरतम रूप से व्यजित कर रहा है।

Leave a Comment