Dolly At The Dentist Summary in English and Hindi by George Bernard Shaw

Dolly At The Dentist Summary in English and Hindi Pdf. Dolly At The Dentist is written by GB Shaw. Learncram.com has provided Dolly At The Dentist Objective Questions and Answers Pdf, Chapter Story Ka Meaning in Hindi.

Students can also check English Summary to revise with them during exam preparation.

Dolly At The Dentist by GB Shaw About the Author

George Bernard Shaw (1856 – 1950) was a playwright, novelist, critic and passionate socialist with great interest and powerful urge to reform society. He was a serious thinker as well on a delightful comedian. He wrote about fifty plays which include “Arms and the Man”, “Candida”, “Man and Superman”, ” Major Barbara”, “Pygmalion”. “Back to methuselah”, “st.Joan” and “The Apple Cart”. Shaw exhibits in his plays a unique blend of acute comments on society. He is regarded as the greatest British dramatist after Shakespeare. All his plays are intelligent debates and one is to face the unpalatable truths beautifully dressed.

Dolly At The Dentist Summary in English

On a fine August morning in 1896, in a dentist clinic, a very pretty woman of eighteen is seen holding a glass of water in her hand. She is trying to bear her pain. The dentist, a handsome young man of about thirty, watches her with the self-satisfaction of a successful operator.

The young lady thanks the dentist handing him the glass. The dentist putting the glass on the narrow self said that it was his first tooth operation. The young lady with a sense of fear asks him if he had begun his practice on her. Upon this the dentist replied that every dentist began with somebody. The young lady retorted that somebody is in the hospital not on the people who paid. The dentist made it clear that hospital was not counted. He only meant that it was the first case in his privated practice.

Thereafter the dentist asked her why she not allowed him to give her gas. She replied that she refused gas because he asked five shillings extractor it. The dentist felt shocked that he had hurt her for the sake of five shillings.

She got up and commented that to hurt someone was the dentist’s profession. He chuckled secretly and proceeded to clean and replace his instruments. In the meantime the young lady went to the window and looked around. She asked so many questions to him. She enquired of his furniture, his family members and his marital status. The dentist let her that the furniture belonged to the landlords, he was not married and other members of his family were not in the premises.

She asks the dentist whether he charges five shilling for everything. The dentist replies in affirmative. When he is asked why he says that it is his system. Hearing this she takes out a coin of five shillings and gives it to hi and asks to make a hole in it and wear it on his watch-chain. The dentist pay her thanks.

The young lady is a parlour-maid. She lives with her brother, philip. Valentine, the dentist, visits her. She introduces him to her brother. She talks how they met and became good friends.

In a short while all the three start a long debate. The topic is culture, civilization, attitudes etc. They talk about the good and bad effects of the 20 century. Brother and sister talk about their mother, her writings and attitude towards life with the dentist. They ask Valentine for lunch with them. He refuses to take lunch with strangers. The discussion continues. A sense of . humour covers the whole discussion. All these three characters are witty and lively.

Dolly At The Dentist Summary in Hindi

1. In a dentist’s………………………. successful operator.
अनुवादः एक दिन 1896 में अगस्त की सुहावनी प्रातः के समय एक दंतचिकित्सक के ऑपरेशन के कमरे में एक छोटी-सी अति सुन्दर महिला, जो मुश्किल से अठारह वर्ष की थी, ‘हाथ में पानी का गिलास थामे दिखाई पड़ती है । उसके छोटे से मजबूती से बँद किए मुंह और अनोखे ढंग से चौड़ी भौंहों पर धैर्य से दर्द को सहन करने की मुद्रा तेजी से दूर होती जा रही है । दंतचिकित्सक लगभग तीस वर्ष की आयु का नवयुवक है, वह सफल ऑपरेशन करनेवाली की आत्म-संतुष्टि से उसे देख रहा है।

2. THE YOUNG LADY…………sake of five shillings.
अनुवाद : युवती : (उसे गिलास थमाते हुए) धन्यवाद ! उसकी त्वचा का बिस्कुटी रंग होने पर भी उसका तनिक भी विदेशी उच्चारण नहीं है ।
दंतचिकित्सक : (गिलास को अपने औजरों की अलमारी के शिलाफलक पर रखकर) यह मेरा पहला दाँत था ।
युवती : (भौंचक्की होकर) आपका पहला ! क्या आप यह कहना चाहते हो कि आपने अपनी प्रैक्टिस मुझ पर शुरू की।
दंतचिकित्सक : हर दंतचिकित्सक को किसी से तो आरंभ करना पड़ेगा ।
युवती : ठीक है, किसी पर हस्पताल में । न कि उन लोगों से जो पैसा देते हैं ।
दंतचिकित्सक : (हँसकर) ओह ! हस्पताल की बात अलग है । मेरे कहने का अर्थ था निजी प्रैक्टिस में पहला दाँत। आपने मुझे आपको गैंस क्यों नहीं देने दी? ।
युवती : क्योंकि आपने कहा था कि उसके पाँच शिलिंग अलग से लगेंगे।
दंतचिकित्सक : (धक्का लगता है) अच्छा, ऐसा न कहो । इससे मुझे ऐ लगता है कि मैंने पाँच शिलिंग की खातिर आपको कष्ट पहुँचाया ।

3. THE YOUNG LADY………..it’s my landlord’s.
अनुवाद : युवती : (शांत गुस्ताखी से) हाँ, आपने पहुँचाई तो है । (वह खड़ी हो जाती ४) आप क्यों न पहुँचाएँगे ? लोगों को दर्द देना आपका धंधा है । (इस प्रकार व्यवहार किए जाने पर उसे गुदगुदी होती है । जब वह अपने औजार साफ करके रखने लगता है तो वह चुपचाप .. हँसता है । वह अपने कपड़े झाड़कर ठीक करता है । लड़की इधर-उधर जिज्ञासा से देखती है, और शाल खिड़की के पास जाती है ।) आपके कमरे से समुद्र का बहुत का दृश्य बहुत अच्छा गता है। क्या यह महँगा है ?
दंतचिकित्सक : हाँ। . युवती : समूचा मकान तो आपका नहीं है, क्यों ?
दंतचिकित्सक : नहीं ।।
युवती : मैंने सोचा ही था कि नहीं है । (लिखने की मेज के पास रखी कुर्सी को टेढ़ा करके और उसे एक टाँग पर घुमाकर) आपका फर्नीचर बिल्कुल नए फैशन का नहीं है क्या ?
दंतचिकित्सक : यह मकान-मालिक का है ।

4. THE YOUNG LADY………..Thank you.
अनुवाद : युवती : क्या दंतकुर्सी भी उसी की है ? (ऑपरेशन करने वाली कुर्सी की ओर संकेत करते हुए) ..
दंतचिकित्सक : मैंने यह भाड़ा-मोल प्रणाली पर ली है।
युवती : (नाम सिकोड़कर) मैंने भी यही सोचा था । (और आगे निष्कर्ष निकालने के लिए इधर-उधर देखते हुए) मेरे विचार में आपको यहाँ आए अधिक समय नहीं बीता।
दंतचिकित्सक : छ: सप्ताह । क्या आप कुछ और जानना चाहती हैं ? |
युवती : (इस संकेत का उस पर कोई प्रभाव न पड़ा) कोई परिवार ?
दंतचिकित्सक : मैं विवाहित नहीं हूँ।
युवती : अच्छा! यह तो कोई भी समझ सकता है । मेरा अभिप्राय है बहनें माँ आदि
दंतचिकित्सक : यहाँ पर घर में नहीं हैं।
युवती : हूँ ! यदि आपन यहाँ छ: सप्ताह से हैं, मेरा दाँत आपने पहला दाँत निकाला, तो आपकी प्रैक्टिस अधिक नहीं हो सकती, है न? ….
दंतचिकित्सक : अभी तो नहीं । (वह सब चीजों को सुव्यवस्थित ढंग से रखकर अलमारी बंद कर देता है ।)
युवती : अच्छा, शुभकामनाएँ (वह अपना बटुआ निकालती है) पाँच शिलिंग आपने कहा था इतने लगेंगे ?
दंतचिकित्सक : पाँच शिलिंग ।
युवती : (पाँच शिलिंगका सिक्का निकालकर) क्या आप हर बात के पाँच शिलिंग लेते हो?
दंतचिकित्सक : हाँ। युवती : क्यों ?
दंतचिकित्सक : यह मेरा ढंग है । मै वह हूँ जिसे लोग पाँच शिलिंग वाला दंतचिकत्सिक कहते हैं।
युवती : बहुत बढ़िया ! अच्छा यह लो । (पाँच शिलिंग का सिक्का पकड़े हुए) नया पाँच शिलिंग का सिक्का है आपकी पहली फीस । इसमें उस चीज से छिद्र कर लेना जिससे आप लोगों के दाँतों में छिद्र करते हो, और इसे घड़ी की जंजीर से पहन लेना ।
दंतचिकित्सक : धन्यवाद ।

5. THE PARLOUR MAID………………..half past one.
अनुवाद : स्वागतिका : (द्वार पर आकर) युवती का भाई, सर ! (एक छोटा सुंदर आदमी, जो सपष्टतः युवती का जुड़वाँ लगता हे, उत्सुकता से भीतर आता है वह साक्षात् तत्परता का रूप है, और जिस क्षण अन्दर आता है, उसका प्रश्न तैयार है।)
युवत : क्या मैं समय पर आ गया ?
युवती : नहीं, अब काम समाप्त हो गया है ।
युवक : क्या तुम चीखी थी ?
युवती : ओ, बहुत भयानक था । मि० वैलेन्टाइन, यह मेरा भाई फिल है । फिल यह मि० वैलेन्टाइन, हमारे नए दंतचिकित्सक (वैलेन्टाइन व फिल एक-दूसरे के आगे सिर झुकाते है । वह एक ही साँस में कहने लगती है ।) यह छः सप्ताह से यहाँ आया है, और कुंवारा है, घर इसका नहीं है और फर्नीचर मकान-मालिक का है परन्तु व्यावसायिक मशीन किराए पर है और इसने मेरा दाँत पहले ही झटके में सुंदर ढंग से निकाल दिया और मैं मित्र बन गए हैं।
फिलिप : बहुत प्रश्न पूछती रही है ?
युवती : (जैसे कि ऐसा करने में सक्षम ही न थी) ओ, नहीं ।
फिलिप : सुनकर खुशी हुई । (वैलेन्टाइन से) हमारी बात का बुरा न मानने के लिए आपकी मेहरबानी । वास्तव में बात यह हैं कि हम इंग्लैंड में पहले कभी न आए थे । और हमारी माँ हमें बताती है कि यहाँ लोग हमें सहन न करेंगे । हमारे यहाँ आकर भोजन करें।
(जिस तेज गति से उनकी जान-पहचान बढ़ रही थी उससे वैलेन्टाइन भौंचक्का रह गया परन्तु उसको उत्तर देने का समय न मिला । क्योंकि जुड़वाँ भाई-बहन का वार्तालाप तीव्र और अविरल था । )
युवती : जरूर आएँ, मि० वैलेन्टाइन । फिलिप : मरीन होटल में, डेढ़ बजे ।

6. THE YOUNG LADY: We…………..It’s a wise child……….
अनुवाद : युवती : हम मम्मी को बता सकेंगे कि एक सम्माननीय अंग्रेज ने हमारे साथ दोपहर का भोजन करने का वचन दिया है ।
फिलिप : और कुछ न कहो, मि० वैलेन्टाइन । आप आएंगे ।
वैलेन्टाइन : और कुछ न कहूँ ? अभी कुछ भी नहीं कहा है । क्या मैं जान सकता हूँ कि मैं किसका अतिथि-सत्कार स्वीकार कर रहा हूँ ? मरीन होटल में दो पूर्णतः अपरिचित व्यक्तियों के साथ भोजन करना वास्तव में असम्भव है ।
युवती : (बचकानां ढंग से) ऊ ! क्या बेतुकी बात है । छः सप्ताह में एक मरीज । इससे आपको कितना अंतर पड़ गया है ?
फिलिप : (परिपक्वता से) नहीं डॉली, मनुष्य के स्वभाव के बारे में मेरे ज्ञान से मि० वैलेन्टाइन के मत की पुष्टि होती है । वह ठीक कह रहा है । मैं मिस डोरोथी क्लन्डन से, जिसे साधारणत: डॉली कहते हैं, आपका परिचय कराता हूँ। (वैलेन्टाइन डॉली के सामने सिर झुकता है । वह उसके आगे सिर हिलाती है ।) मैं फिलिप कलन्डन हूँ। हम मदीरा के रहने वाले हैं, परन्तु अभी तक बिल्कुल सम्माननीय हैं ।
वैलेन्टाइन : क्लन्डन ! क्या आपका समबन्ध……..
डॉली : (अचानक हताश होकर रोने लगती है) हाँ, है ।
वैलेन्टाइन : (विस्मय से) मैं समझा नहीं ?
डॉली : ओह, हम हैं, हम हैं (सम्बन्धित) । अब सब कुछ समाप्त हो गया फिल, इंग्लैंड में सब हमारे बारे में जानते हैं । (वैलेन्टाइन से) ओह, आप नहीं समझ सकते कि किसी प्रसिद्ध व्यक्ति से सम्बन्ध होना और स्वयं की कोई कद्र न होना कितना पागल बना देता है।
वैलेन्टाइन : परन्तु क्षमा करना, जिस सज्जन की मैं बात कर रहा था वह प्रसिद्ध नहीं है। डॉली और
फिलिप : (उसको घूरते हुए) सज्जन !
वैलेन्टाइन : हाँ ! मैं यह पूछने लगा था कि क्या आप न्यूबेरी हॉल के मि० डेन्समोर की पुत्री तो नहीं हैं ? …
डॉली : (निर्भाव से) नहीं । फिलिप : अच्छा डॉली, तुम कैसे जानती हो कि तुम (उसकी पुत्री) नहीं हो ?
डॉली : (प्रसन्न होकर) हाँ, मै। भूल गई थी । ठीक है । शायद मैं हूँ ।
वैलेन्टाइन : क्या आप नहीं जानतीं ? फिलिप : बिल्कुल नहीं । डॉली : वह बच्चा समझदार होता है जो . . . . .

7. PHILIP………………..Our sister Gloria!
अनुवाद : फिलिप : (उसको टोकते हुए) श…! (वैलेन्टाइन घबराकर चौंक पड़ता है क्योंकि फिल ने जो ध्वनि की, यद्यपि क्षणिक थी, ऐसी थी जैसे बिजली ने कौंधकर रेशम की पट्टी को फाड़कर दो कर दिया हो। यह डॉली के अविवेक को रोकने के लम्बे अभ्यास का परिणाम है।) सच बात यह है कि मि. वैलेन्टाइन, कि हम श्रीमती लेनफ्रे क्लन्डन के बच्चे हैं, जो मदीरा में प्रसिद्ध लेखिका है। उसकी पुस्तक के बिना कोई घर पूर्ण नहीं होता। हम लन्दन में उनसे बचने के लिए भाग कर आए हैं। उस पुस्तक का नाम है ‘बीसवीं शबाब्दी के निबन्ध’ ।
डॉली : बीसवीं शताब्दी का पाकशास्त्र ।
फिलिप : बीसवीं शताब्दी की धर्म आस्थाएँ।
डॉली : बीसवीं शताब्दी के कपड़े।
फिलिप : बीसवीं शबाब्दी का आचरण !
डॉली : बीसवीं शताब्दी के बच्चे ।
फिलिप : बीसवीं शताब्दी के माता-पिता ।
डॉली : लचलचा कपड़ा, चढ़ी पुस्तक आधा डॉलर ।
फिलिप : या मढ़ी हुई, या लिनन वाली कठोर परिवार के प्रयोग के लिए, दो डॉलर । किसी परिवार को उसके बिना नहीं रहना चाहिए। उन्हें पढ़ो, मि. वैलेन्टाइन, वे आपका दिमाग सुधार देंगी।
डॉली : परन्तु हमार जाने के बाद (पढ़ना), प्लीज ।
फिल : बिल्कुल ठीक ! हम बिना सुधरे दिमाग वाल लोगों को पसन्द करते हैं। हमारे अपने मस्तिष्कों ने हमारी माँ के उन्हें सुधारने के सब पयाम विफल कर दिए।
वैलेन्टाइन : (असमंजस में) हूँ।
डॉली : (उसकी प्रतिध्वनि करती है जिज्ञासा से) हूँ? फिल उसे वे लोग अच्छे लगते हैं जिनके दिमाग सुधर गए हैं।
फिलिप : यदि यह बात है तो हम इसका परिचय परिवार क अन्य सदस्यों से कराना पड़ेगा। बीसवीं शताब्दी की महिलाएँ। हमारी बहन ग्लोरिआ ।

Word-Meanings:
in miniature (phr) : small in size = छोटे आकार वाला; retty beautiful tense strained = तनाव में; quaintly (adv): strangely = अनोखे ढंग से; complexion (n): colour of skin = त्वचा का रंग; accent (n) : pronunciation = उच्चारण; ledge (n): narrow shelf = शिलाफलक; cabinet (n):cupboard = अलमारी; aghast (adj) : terrified = भौंचक्की ; deesn’t count (idiom): not considered = गिना नहीं जाता; gas (n) = गैस (here) laughing gas that deadened sense of pain = दर्द का अहसास मिटाने वाली गैस; insolence (n) : rude behaviour = गुस्ताखी; amuses excites a sense of fun = हँसी आना; chuckles (v): laughs with closed = दबी हँसी हँसना; inquisitively (adv) : with eagerness to know = जिज्ञासा से; tilting (v) : inclining = टेढ़ी करके; hire purchase paying for a thing = भाड़ा-मोल; system in instalment while while using it too = yurisit; disparagingly (adv): in a manner that makes it appear

Leave a Comment